आक्रोशित छात्रों ने किया छात्र संघ के चुनाव को लेकर उग्र प्रदर्शन, कहा….

प्रदर्शन करते छात्र

पुष्परंजन बजाज(दरभंगा)- ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय दरभंगा में छात्र संघ चुनाव को ले काफी गहमागहमी की स्थिति उत्पन्न हो गयी है.छात्र संगठन का एक खेमा विवि चुनावी निर्धारित नियम व तिथि के विरोध किया तो वहीं दूसरा खेमा विवि प्रशासन के निर्धारित नामांकन व चुनावी तिथि के पक्ष में गोलबंद होकर हल्ला बोल हुंकार रूपी आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन करते रहे.

संयुक्त छात्र संगठन अधीन लेफ्ट एनएसयूआई,छात्र जदयू ,छात्र राजद ,जाप समेत दर्जनो छात्र संगठन ने विश्वविद्यालय द्वारा निर्धारित नामांकन व चुनावी तिथि को विस्तारित करने की मांग पर अड़े रहे. जिसको लेकर बीते सप्ताह बतौर उक्त छात्र संगठन द्वारा विवि प्रशासन व पुलिस अधिकारियों के समक्ष प्रदर्शन किया गया था.बाबजूद इसके प्रशासन व विवि प्रशासन ने निर्धारित तिथि विस्तारित का आश्वासन देते हुये शीघ्र अधिसूचना जारी करने की भी बात कही थी,लेकिन विवि प्रशासन के ढुलमुल रवैये को देख संयुक्त छात्र संगठन ने रविवार को विवि के नरगौना परिसर विवि में अधिकारियों की चल रही बैठक के दौरान ही परिसर के बाहर गेट के समीप हजारों छात्र बड़ी संख्या में पहुँच विवि प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की.

इसी दौरान अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता भी मौके पर पहुँच विवि प्रशासन के पक्ष में नारेबाजी करते रहे. मौके पर चंद पुलिस पदाधिकरी भी मौजूद थे. लेकिन संयुक्त छात्र संगठन व अभाविप के बीच हल्की नोकझोंक के मद्देनजर कुछ ही देर बाद डीएसपी दिलनवाज अहमद पहुँच तनाव की स्थिति को नियंत्रित करते हुये विभिन्न छात्र संगठन के कार्यकर्ताओं को समझाबुझाकर अफरातफरी के माहौल को नियंत्रित किया.मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात करते हुये विवि प्रशासन व संयुक्त छात्र संगठन के विभिन्न संगठन के प्रतिनिधियों संग वार्ता को ले डीएसपी श्री अहमद ने पहल की.

संयुक्त छात्र संगठन का आरोप है कि विवि प्रशासन द्वारा आगामी 18 फरवरी को नामांकन व 25 फरवरी को चुनाव के आश्वासन के बाद भी विवि द्वारा कोई अधिसूचना जारी नही की गयी.डीएसपी श्री अहमद की मौजूदगी में संयुक्त छात्र संगठन व विवि प्रशासन के बीच हुयी वार्ता सफल रही. जिसमें प्रदर्शनकारी छात्र संगठन की मांग मानते हुये विवि प्रशासन ने नामांकन तिथि को विस्तारित करते हुये 13 फरवरी व चुनाव 25 फरवरी को कराने की मांग की, जिसके बाद छात्र संगठन ने प्रदर्शन को समाप्त किया.

लिखित आश्वासन दिया गया. जिसके विरोध में छात्र शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन को वे मजबूर हुए. वही अभाविप निर्धारित तिथि पर ही नामांकन व चुनाव के पक्ष में दिखी. प्रदर्शन में लेफ्ट के शंकर सिंह,सुमन झा,मयंक यादव,छात्र जदयू के जोहा सिद्दिकी ,विनेश कुमार मंडल ,सुभाष यादव, आसिफ, एनएसयूआई के तनवीर हसन,त्रिभुवन यादव, जमाल, छात्र राजद से संतोष गोस्वामी, जन अधिकार छात्र परिषद से सोनू तिवारी, साइँ अनुपम एवं मो इमाम समेत दर्जनों की संख्या में छात्र नेता मौजूद थे.संयुक्त छात्र संगठन के संयुक्त कार्यकर्ताओं ने एकजुट होकर डेली बिहार न्यूज को बताया कि ये जीत संगठन के संग- संग उन तमाम छात्रों की है ,जिनके समस्याओं के निदान को सदैव वे सभी तत्पर रहते है.


इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *