मकर संक्रांति को लेकर पटना में ऐसी है तैयारी, जाने क्या मिल रहा है खास..

हितेश कुमार : ग्रहों के अधिपति सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करते ही मकर संक्रांति का त्योहार मनाया जाता है. जैसे-जैसे मकर संक्रांति का त्योहार नजदीक आ रहा है, वैसे-वैसे राजधानी के तमाम इलाकों में तिलकुट का बाजार गर्म होता जा रहा है. पटना सिटी समेत पूरे पटना में इन दिनों मकर संक्रांति को लेकर लोगों में काफी उत्साह नजर आ रहा है.

चूड़ा और तिलकुट की दुकानों पर काफी भीड़ दिख रहा है. मूल रूप से तिलकुट को लेकर राजधानी पटना में दूर-दूर से कारीगरों को बुलाया जाता है और महीनों से इस पर तैयारी शुरू कर दी जाती है. पखवारा पूर्व दुकानदारों द्वारा तिलकुट का इंतजाम भरपूर मात्रा में कर लिया जाता है. ताकि आए हुए ग्राहकों को वापस जाना पड़े. कहां है यह भी जाता है कि मकर संक्रांति को तिल से बना सामग्री खाने से ग्रहों में कटौती होती है.

इस बार मकर संक्रांति को लेकर तिलकुट के कई प्रकार देखने को मिल रहे हैं. चीनी, गुड़, मावा, मलाई, ड्राई फ्रूट्स के अलावा शुगर फ्री तिलकुट भी बनाया जा रहा है. डायबिटीज के मरीज भी मकर संक्रांति में तिल कूट का भरपूर आनंद ले सकते हैं. क्योंकि उन्हीं के लिए खास तौर पर शुगर फ्री तिलकुट का इंतजाम किया गया है. दुकानदार बताते हैं कि शुगर फ्री तिलकुट की बिक्री भी लोगों में काफी अच्छी है. हिंदू धर्म में आमतौर पर यह देखा जाता है कि मकर संक्रांति के बाद 1 महीने से लगा खरमास भी समाप्त हो जाता है और इस दिन से शुभ कार्यों का श्रीगणेश किया जाता है.


इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.

Tagged with:

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *