राजद कार्यकर्ताओं पर हमला होता देख खौल उठा तेजस्वी क खून, नीतीश जी……

tejaswi yadav attacking mode

file photo

हितेश कुमार : आज सृजन महाघोटाले के विरोध में युवा राजद द्वारा आयोजित राजभवन मार्च में मुख्यमंत्री नीतीश जी के कहने पर राजद के कार्यकर्ताओं पर बर्बरतापूर्वक लाठी बरसाई गई. जिसके बाद बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सह नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा की राजद कार्यकर्ता शांतिपूर्वक तरीक़े से सृजन महाघोटाले के विरुद्ध राजभवन मार्च कर रहे थे. नीतीश जी के इस महाघोटाले में गहरी और संदिग्ध संलिप्तता है इसलिए चेहरा बचाने के लिए प्रशासन के मार्फ़त राजनीतिक कार्यकर्ताओं को सरकारी गुंडागर्दी से डरा रहे है.

नीतीश कुमार तानाशाह हो गए है. सृजन महाघोटाले में संलिप्तता है तभी तो भड़क रहे है. अगर भागीदारी नहीं है तो लोकतांत्रिक और शांतिपूर्ण विरोध मार्च से आप डरते क्यों है? आपकी पुलिस से हम डरने वाले नहीं है. जिस पुलिस से अपराध रुकवाना चाहिए उससे आप लोकतांत्रिक प्रक्रिया रुकवा रहे है. लोहिया जी की पुण्यतिथि पर नीतीश जी ने राजद के समाजवादी कार्यकर्ताओं को अपनी पुलिस से बर्बरतापूर्वक पिटवाकर लहुलूहान करवाया. नीतीश कुमार समाजवाद के नाम पर कलंक है. पुरा देश जानता है नीतीश जी सृजन घोटाले में अपने आप को बचाने के लिए बीजेपी में भाग गए लेकिन जान लीजिये बिहार की जनता आपको छोड़ने वाली नहीं है. आपको घोटाले का हिसाब और जवाब देना होगा.

युवाओं पर लाठीचार्ज करके सर फोड़ देना ही नीतीश जी की भाजपाई उपलब्धि हैं. युवाओं का ख़ून बहाकर कितने दिन आप कुर्सी से चिपके रहेंगे? ऐसा लग रहा है भ्रष्टाचार के विरुद्ध लड़ रहे युवाओं का ख़ून पीकर ज़िंदा है नीतीश सरकार. धिक्कार हैं सृजन के दुर्जन कुर्सी पर सवार हैं. राज्यपाल की अनुपस्थिति में राजभवन के किसी भी पदाधिकारी ने राजद के प्रतिनिधि मंडल से मिलना मुनासिब नहीं समझा। जबकि पहले से ही 3 बजे प्रतिनिधि मंडल से मिलने का समय निर्धारित था. नीतीश जी के इशारों पर बिहार में सभी लोकतांत्रिक और संवैधानिक मूल्यों की धज्जियाँ उड़ाई जा रही है.

यह भी पढ़ें:
नीतीश जी के कहने पर राजद कार्यकर्ताओं पर बर्बरतापूर्वक बरसाई गई लाठी’

राजद कार्यकर्ताओं पर हुए लाठीचार्ज के बाद राजद ने उठाया बड़ा कदम….

बिग ब्रेकिंग: युवा राजद के राजभवन मार्च में पुलिस ने जमकर भांजी लाठियां, कार्यकर्ताओं का फटा सर…..


इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.

Tagged with:

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *