जल संसाधन मंत्री ललन सिंह के इस्तीफे की उठी मांग, निकाला गया…..

हितेश कुमार : जन अधिकार पार्टी ने कारगिल चौक से जेपी गोलंबर तक आज विरोध मार्च व मौन जुलूस निकाला. जन अधिकार पार्टी के संरक्षक और मधेपुरा सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्‍पू यादव ने भागलपुर के कहलगांव में बांध टूटने के मामले में जल संसाधन मंत्री ललन सिंह से इस्‍तीफे की मांग की है. इसके साथ ही उन्होंने पेट्रोलियम पदार्थों को जीएसटी के दायरे में लाने की भी मांग की है.

आज जाप द्वारा कारगिल चौके से जेपी गोलंबर तक आयोजित मौन जुलूस और विरोध मार्च के बाद पत्रकारों से चर्चा में श्री यादव ने कहा कि भागलपुर के कहलगांव में उद्घाटन के पहले ही बांध का टूट जाना निर्माण कार्यों में भ्रष्‍टाचार का प्रमाण है और प्रशासनिक लापरवाही का नतीजा भी है. इस घटना की जिम्‍मेवारी लेते हुए जल संसाधन मंत्री ललन सिंह को इस्‍तीफा दे देना चाहिए. इसके साथ ही दोषी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए प्राथमिकी दर्ज की जानी चाहिए. इसके साथ ही सांसद ने कहा कि जल संसाधन विभाग लूट और भ्रष्‍टाचार का अड्डा है.

हर साल बाढ़ में दर्जनों बांध टूटते हैं और लाखों लोग बेघर होते हैं. लेकिन यही तबाही नेता,अधिकारी और ठेकेदारों के लिए कमाई का जरिया बन जाती है. उन्‍होंने कहलगांव में बांध टूटने के मामले की जांच पटना उच्‍च न्‍यायालय की निगरानी में कराने की मांग की. पप्पु यादव ने कहा कि पेट्रोलियम पदार्थों को भी जीएसटी के दायरे में लाना चाहिए, ताकि इसका लाभ उपभोक्‍ताओं को मिल सके. अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में कच्‍चे तेल की कीमतों में कमी आयी है, इसके बावजूद पिछले एक महीने में पेट्रोल की कीमत में 9 रुपये और डीजल की कीमत में 6 रुपये प्रति लीटर की वृद्धि हुई है. इसकी मार उपभोक्‍ताओं को झेलनी पड़ रही है. विरोध मार्च में राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष रघुपति प्रसाद सिंह, प्रदेश अध्‍यक्ष अखलाक अहमद, राष्‍ट्रीय प्रधान महासचिव एजाज अहमद सहित कई लोग मौजूद थे.

यह भी पढ़ें:
नीतीश को समर्थन कर बुरे फंसे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अशोक चौधरी…

परीक्षार्थीयों का इंतजार खत्म, टीईटी रिजल्ट हुआ जारी

कांग्रेस नेताओं के गठबंधन तोड़ने को लेकर बयानबाजी पर लालू ने दिया बड़ा बयान…


इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *