उत्तरी बिहार में अपराधियों पर चला कानून का डंडा, मौके पर…

मधुरेश,मोतिहारी: किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की योजना बना रहे पांच अपराधियों को पुलिस ने मौके से धर दबोचा है. पूलिस ने इन अपराधियों की गिरफ्तारी कोटवा-मोतिहारी पथ पर अवस्थित चिउटांहा नहर पुल के समीप से की है. इन अपराधियों की गिरफ्तारी से गत् दिनों पूर्वी चंपारण जिले के कोटवा थाना क्षेत्र में एक सीएसपी संचालक से हुए लूट कांड का पर्दाफास हो गया है. पुलिस ने इन शातिर अपराधियों के पास से दो देसी पिस्तौल और तीन जिंदा कारतूस बरामद किया है. इसके साथ ही इनके पास से चोरी के दो लैपटॉप और कई मोबाइल भी बरामद हुए हैं.

यहां बता दें कि 25 अगस्त को ग्रामीण बैंक सीएसपी के संचालक से हुई लूट के मामले में पुलिस को इन अपराधियों की तलाश थी. इन अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही थी. बाइक सवार चार अपराधियों ने हथियार का भय दिखाकर कोटवा के मठिया चौक के समीप दिल्ली-काठमांडू राष्ट्रीय राजमार्ग पर लूट की घटना को उस समय अंजाम दिया था, जब सीएसपी संचालक कोटवा स्टेट बैंक से रुपये निकाल कर लौट रहा था. अपराधियों ने सीएसपी संचालक से 2 लाख 20 हजार रुपया लूट लिया था.

पुलिस ने तुरकौलिया थाना क्षेत्र के अंगद कुमार, विक्की कुमार, अनिल कुमार, कोटवा थाना क्षेत्र के राजकिशोर कुमार और अभय कुमार यादव को गिरफ्तार किया. पुलिस के हत्थे चढ़े अपराधियों में दो युवकों ने लाइनर की भूमिका निभायी थी. पुलिस ने घटना के दौरान अपराधियों द्वारा प्रयुक्त बाइक को भी बरामद किया है. सड़क लूटेरा गिरोह के शातिर अपराधियों की गिरफ्तारी से पूर्वी चंपारण की पुलिस ने राहत की सांस ली है.

वहीँ एक दूसरी घटना में पड़ोसी देश नेपाल की सीमा पर अवस्थित भारतीय शहर रक्सौल से एसएसबी ने पांच किलो चरस के साथ एक तस्कर को गिरफ्तार किया है. बरामद चरस को तस्कर तस्करी के लिए नेपाल से भारतीय सीमा में ला रहे थे. इसकी सूचना मिलते ही रक्सौल के महदेवा पोस्ट पर तैनात एसएसबी 47 वीं बटालियन के जवानों ने शहर के सोना टाॅकिज के समीप एनएच 28 सड़क पर रिक्सा में छुपा कर ले रहे पांच किलो चरस के साथ उमेश साहनी नामक तस्कर को गिरफ्तार कर लिया.

इसकी जानकारी देते हुए रक्सौल के थानाध्यक्ष सह पुलिस इंस्पेक्टर उग्रनाथ झा ने बताया कि गुप्त सूचना पर एसएसबी इंस्पेक्टर आनंन्द कुमार के नेतृत्व में एचपी जीडी भूपेन्द्र चौबे, कांस्टेबल प्रमिन्द्र कुमार यादव व शंभू कुमार ने घेराबंदी करके रिक्सा को घेर लिया. एसएसबी ने तलाशी के दौरान रिक्से के सीट के नीचे से तस्करी का उक्त चरस बरामद हुआ. बरामद चरस की कीमत लगभग 75 लाख आंका गया है. इस संदर्भ में एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज करके गिरफ्तार तस्कर को जेल भेज दिया गया. गिरफ्तार तस्कर रिक्सा चालक सुगौली थाने के छपरा बहास टोला डुमरी का निवासी बताया जाता है. गिरफ्तार तस्कर ने पुलिस को बताया कि उसे किसी ने नेपाल कस्टम (भंसार) के पास रामगढ़वा में डिलेवरी देने के लिए चरस का पैकेट दिया था जिसका नाम-पता वह नहीं जानता है.

यह भी पढ़ें:
लालू के हमले से बौखलाए सुशील मोदी भी आये रंग में, कहा…

मंत्रीमंडल विस्तार पर इस बड़े सहयोगी दल ने मोदी सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा…

लालू पर खूब मजा ले रहे थे नीतीश, अब तेजस्वी ने दिया मुंहतोड़ जवाब


इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.


Tagged with:

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *