शरद यादव के साझी विरासत बचाओ सम्मेलन पर जदयू प्रवक्ता निखिल मंडल ने किया सनसनीखेज खुलासा…

न्यूज़ डेस्क: महागठबंधन टूटने के बाद जनता दल यूनाईटेड लगभग दो धड़ो में बंट चुका है. शरद यादव सीएम नीतीश कुमार के खिलाफ लगभग जा चुके हैं. बीजेपी के साथ जाने पर शरद यादव ने तीन दिनों के लिए बिहार में संवाद यात्रा पर आये जनता की नब्ज को टटोलने जिसके बाद जदयू ने 21 नेताओं को बाहर का रास्ता दिखा दिया है.

आज नई दिल्ली में शरद यादव झी विरासत बचाओ सम्मेलन का आयोजन किया जिसमे विपक्ष के तमाम बड़े नेता मौजूद रहे. शरद यादव के द्वारा आयोजित इस सम्मेलन पर जदयू प्रवक्ता ने बड़ा खुलासा किया है. उन्होंने अपने फेसबुक और ट्विटर पर शरद यादव के बारे में लिखा है तथा एक फोटो भी शेयर किया है. उन्होंने लिखा है कि आप खुद ही तय करें..! साझी विरासत बचाओ सम्मेलन के बैनर तले जिस तरह से अपने पारिवारिक विरासत को बचाने का प्रयास किया जा रहा है ये अब आपके सामने हैं. मीटिंग में किसी को मंच पे भले जगह नहीं मिला हो पर पूरा परिवार जरूर साथ दिखा. फोटो में शरद जी अपने बेटा, दामाद और दो सालों के साथ..! सबसे पहले परिवार.

इससे पहले भी वह कह चुके हैं कि शरद यादव जी खुद कहा करते थे पार्टी से बड़ा व्यक्ति नहीं होता. पर वो आज खुद इस सोच के विपरीत अपने को पार्टी से बड़ा मान रहे है. भले ही शरद यादव जी बदल गए हो पर सच्चाई नहीं बदली. सच्चाई आज भी वही है की पार्टी के ऊपर कोई नहीं होता, शरद यादव जी भी नहीं..

nikhil mandal

file photo

वहीं जदयू के फायरब्रांड नेता और प्रवक्ता डॉक्टर अजय आलोक ने शरद यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि साँझी विरासत -ऐसा एक कार्यक्रम कांग्रेस के ख़िलाफ़ 30 साल पहले 87 में शरद जी ने किया था आज उस विरासत के मुख्य किरदार बदल गए. वाह रे विरासत. शरद जी TIRED हो गए हैं अब RETIRED होने का समय आ गया हैं । इतनी समझ तो होनी चाहिए की लोकतंत्र में विरासत जनता देती हैं ना की परिवार.

इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.



Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *