सृजन घोटाले में लालू की मांग पर केंद्र की मंजूरी…!

lalu yadav

file photo

सृजन महाघोटाले में लालू की सीबीआई जांच की मांग को मंजूरी मिल गई है. नीतीश कुमार ने लालू प्रसाद यादव की मांग के बाद इस महाघोटाले की जांच के लिए सीबीआई की सिफारिश कर दी थी लेकिन अभी तक केंद्र की सीबीआई ने इसे मंजूर नहीं किया था. कल लालू प्रसाद यादव ने भी कह दिया कि नीतीश बहार बहार सीबीआई से जांच की सिफारिश करते है और अंदर से इसके लिए मना करवा देंगे. लकिन सीबीआई ने इस मामले की जाँच की जिम्मेदारी ले ली है.

कल लालू ने कहा था:

लालू ने कहा कि भ्रष्टाचार के मामले में तो इनलोगों पर जांच होनी चाहिए इनलोगों ने जो घोटाला किया है वो तो जनता की गाढ़ी कमाई का है और इतना पैसा मिलकर डकार गए हैं. जनता सब देख रही है। वो तो मैंने कहा कि सीबीआइ की जांच कराओ दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा. मुझे एसआइटी पर भरोसा नहीं है.

SIT तथ्यों को गायब कर रहा है. महेश मंडल की रहस्यमय तरीके मौत हो गई. लालू प्रसाद यादव ने सवाल पूछा कि 2013 में मामला संज्ञान में आया तो उस रिपोर्ट का क्या हुआ. जिलाधिकारी का आनन-फानन में तबादला क्यों किया गया. CAG ने 2008 के रिपोर्ट में अनियमितता को उजागर किया लेकिन कोई कार्रवाई जाँच नहीं हुई. मामले को दबाने के लिए SIT जांच करवा रहे मुख्यमंत्री.

सृजन घोटाले में मुख्यमंत्री मौनी बाबा बन गए है. वो जांच को बाधित करने और लोगों को गुमराह करने के लिए कार्य कर रहे है. मुख्यमंत्री इन सवालों के जवाब दें?

मुख्यमंत्री बताये जब 2013 में आर्थिक अपराध शाखा के संज्ञान में मामला आया. जांच हुई तो उस जांच रिपोर्ट का क्या हुआ? दोषियों पर कार्यवाई करने की बजाय उन्हें प्रोत्साहित क्यों किया गया.

सृजन घोटाले के जांच का आदेश देने वाले जिलाधिकारी का आनन-फानन में तबादला क्यों किया गया?

जिलाधिकारी की जांच रिपोर्ट का क्या हुआ?

CAG ने अपनी 2008 की रिपोर्ट में सृजन द्वारा की जा रही वितीय अनियमतिता को उजागर किया था फिर भी आपने इस मामले को क्यों दबाया?

नीतीश कुमार खुद को बचाने के लिए सृजन घोटाले के साक्ष्यों को समाप्त करवा रहे है. उन्होंने पुरे घोटाले की SIT जांच का जिम्मा अपने चेहते स्वजातीय अफसर को सौंपा है. ताकि वो सब सबुत नष्ट कर सकें.

जांच करने वाला अफसर खुद भागलपुर जिला का SSP रहते हुए “सृजन” के कार्यक्रमों में शरीक होता था. वो क्या निष्पक्ष जांच करेगा?

इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.



Tagged with:

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *