प्रश्न पत्र लीक मामले को लेकर बीएसएससी सचिव परमेश्वर राम को एक बिहारी ने लिखा खुला ख़त

bssc


ब्लॉग. अक्सर देखा गया हैं कि अपना गुनाह छुपाने के लिए लोग चुप रहते हैं. क्या इस बार भी बीएसएससी के सचिव परमेश्वर राम किसी के आदेश का इंतजार कर रहे हैं. क्या वे टॉपर्स घोटाले की तरह मीडिया के साक्ष्य का इंतजार कर रहे हैं. जब छात्र इस बात को लेकर आश्वस्त हैं कि पेपर लीक हुआ हैं. पुलिस भी पेपर लीक करने वाले गिरोह की तलाश में छापामारी कर रही हैं फिर क्यों नहीं इस मामले में एक उच्च स्तरीय जाँच की जा रही हैं?

सवाल छात्र के भविष्य और उनके मेहनत का हैं. सालों मेहनत के बाद एक एग्जाम होता हैं फिर उसमें भी प्रश्न लीक जैसे मामले आते हैं तो निश्चित ही एक छात्र के लिए बहुत कठिन हो जाता हैं.

सबसे बड़ी बात कि इस मामले को लेकर सभी छात्र संगठनों ने एक जुटता दिखाई हैं, सभी परीक्षा की जाँच की मांग कर रहे हैं. मुझे ऐसा लगता हैं कि इसमें बड़े लोगों का हाथ होगा तभी सचिव साहब इस पुरे मामले को लेकर चुप हैं.

जिस तरह टॉपर्स घोटाले में बिहार बोर्ड के चैरमैन की भी हाथ थी कहीं इसमें भी तो नहीं बीएसएससी के बड़े अधिकारी शामिल हैं फिर जाँच कौन करेगा जब सब शामिल हैं इसलिए
अब तो नीतीश कुमार से इस मामले की जाँच की मांग की जानी चाहिए. अगर ख़त में दम हैं तो हर बिहारी तक पहुंचानी चाहिए.
ब्लॉग. प्रमुख संपादक, पर्बिंद कुमार. डेली बिहार न्यूज़


[related_posts_by_tax title=”रिलेटेड न्यूज़:” posts_per_page=”3″]
इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.
[addtoany]

1 Comment

  1. Alok February 5, 2017 at 7:27 pm

    Sahi baat hai. Enquiry hona chahye. Ek to Bihar mai vaccancy nahi aata uper se dhandhli.CM ko action lena chaye. Ye un students ka haq chhin rahe hai jo mehnat karte hai. Ye Bihar ke ijjat ka bhi sawal hai.

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *