एसएसपी भागलपुर ने हर बार की तरह एक और किडनेपिंग केस को 16 घंटे में कर दिया क्लोज…

manoj kumar ssp bhagalpur


भागलपुर एसएसपी मजोज कुमार अपने सौ प्रतिशत किडनेपिंग केस क्लोज करने के लिए जाने जाते हैं. प्राप्त जानकारी के मुताबिक इन्होंने अब तक किडनेपिंग के सभी केस बिना केजुअल्टी के क्लोज किये हैं. अभी 26 जनवरी को एक किडनेपिंग की घटना हुई थी जिसें एसएसपी मनोज कुमार ने 16 घंटे के अंदर आरोपियों को गिरफ्तार किया तथा अपहृत युवक को छुड़ाया.

घटना लोदीपुर थाना की हैं जब विक्रम कुमार उर्फ़ बिक्की अपने घर से सैंडिस कम्पाउंड में झाकी देखने के लिए निकला तभी गाँव के ही मंटा मंडल अपने एक साथी के साथ मोटरसाईकिल से आया और साथ चलने की बात कही और तीनों उसी से सैंडिस ग्राउंड गये लेकिन अभी मेला नहीं शुरू होने की वजह से उन्होंने चाय पिलाने के बहाने तिलकामांझी चौक चलने को कहा फिर वहां से वो लोग बहाना बनाकर नवगछिया ले गये. वहां और उनके तिन और साथी आ गये फिर उसे वहां से दिआरा की तरफ ले गये. बिक्की के मोबाइल से उन्होंने उसके पिता से 500000 रंगदारी की मांग की.

पिता के पुलिस में शिकायत के बाद एसएसपी मनोज कुमार ने युवक को बचाने के लिए एक टीम गठित की. जब आपराधियों ने पिता को पैसे देने के लिए बुलाया तो उस स्थान पर पुलिस ने पहले से ही वहां जाल बिछा दिया था. अँधेरा होने के कारण अपहरण में शामिल आपराधी भाग निकले उसके बाद पुलिस ने छापमारी कर बिक्की को बरामद कर लिया. बिक्की की निशानदेही पर अपहरण में शामिल खगेश कुमार, देवानंद उर्फ़ डाबो, टोनी शर्मा और मंटा मंडल को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया.


[related_posts_by_tax title=”रिलेटेड न्यूज़:” posts_per_page=”3″]
इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.
[addtoany]

Tagged with:

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *